बाल गिरने की समस्या आजकल आम हो गई है। अब बाल गिरना ऐसा नहीं रह गया है कि वो सिर्फ ज्यादा उम्र के लोगों को होगा। अब यंग से लेकर उम्रदराज तक सभी को ये परेशानी हो रही हैं। बालों की देखभाल तो हम सभी करते हैं, लेकिन तनाव, प्रदूषण, हेरेडिटी, दवाओं का असर, जीवनशैली आदि की समस्या से तो ये परेशानी और ज्यादा बढ़ती जा रही है।

पर आखिर इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए हम क्या कर सकते हैं?

न करें ब्लीच-
अगर आपके बाल गिर रहे हैं तो सबसे पहला सुझाव ये है कि आप अपने बालों के ओरिजनल शेड से दो शेड लाइट नहीं जा सकते हैं। दरअसल, बालों में अलग-अलग तरह के कलर करने के लिए पहले उन्हें ब्लीच किया जाता है। जितना लाइट शेड होता उतना ही ज्यादा हाइड्रोजन पेरोक्साइड का इस्तेमाल होगा। इससे बालों से नेचुरल मॉइश्चर चला जाएगा और ज्यादा परेशानी बढ़ेगी। इसमें बालों का बेजान होना, फ्रिज़ी होना, इनका टूटना शामिल है। अगर आप भी कोई और कलर कर रहे हैं तो सिर्फ जड़ टच अप करवाएं। ग्लोबल कलर करवाना आपके बालों के लिए ज्यादा हानिकारक होगा।

बहुत ज्यादा हेयर उपचार न करवाएं-
अगर आपके बालों में पहले से ही डैमेज शुरू हो गया है तो आप ज्यादा हेयर उपचार न करवाएं। हेयर रिबॉन्डिंग, बालो को चमकदार आदि एक साल से ज्यादा नहीं करवाना चाहिए।

हफ्ते में एक-दो बार से ज्यादा मास्क न लगाएं-
अगर आपके बालों में डैमेज हो रहा है तो यकीनन आपको भी कई मास्क इस्तेमाल करने के बारे में बोला गया होगा। हेयर मास्क बालों को प्रोटीन और हाइड्रेशन दोनों ही देते हैं, लेकिन इसका मतलब ये नहीं कि इसे रोज़ाना लगाया जाए। इससे बाल ज्यादा टूटते हैं। आप बालों को बेहतर बनाने के लिए मोरक्कन ऑयल मास्क, आर्गन ऑयल से भरपूर मास्क या एलोवेरा मास्क प्रयोग कर सकती हैं।

केमिकल शैम्पू इस्तेमाल न करें-
अगर आपके बालों में डैमेज पहले से ही हो रहा है तो आप एसएलएस फ्री शैम्पू इस्तेमाल करें। ये बालों को डैमेज कवर तो दे पाएगा। हां, अगर आपकी खोपड़ी ऑयली है तो आपको एसएलएस वाला शैम्पू इस्तेमाल करना ज़रूरी हो जाता है |

न करें पतले दांतों वाली कंघी का इस्तेमाल-
मोटे दांतों वाली कंघी बालों का डैमेज कम कर सकती है। अगर बाल गीले हैं तो मोटे दांतों वाली कंघी ही सबसे बेस्ट साबित होगी। अगर आपके बालों के क्यूटिकल टूटे हैं तब तो फ्रिक्शन कम हो इसके लिए आप लकड़ी की मोटे दांतों वाली कंघी ही प्रयोग करें। बहुत ज्यादा बालों को सुलझाने से भी प्राब्लम हो सकती है।

हीटिंग टूल्स गीले बालों में न इस्तेमाल करें –
अगर आपको बालों को ज्यादा स्टाइल करने की जरूरत हो तो भी ये ध्यान रखें कि गीले बालों में अगर सीधे हीटिंग टूल्स लगाए जाएंगे तो ये बालो को ज्यादा डैमेज करेंगे। बालों में पानी होता है और सीधे हीट उनमें पड़ती है तो भाप बनने लगती है और इससे बालों में और ज्यादा डैमेज होता है। इसी के साथ, हीटिंग टूल्स का तापमान भी आप ज़्यादा न रखे|

ये सारे टिप्स आपके बालों की समस्या को दूर करने के लिए फयदेमंद साबित हो सकते हैं। अगर आपके बाल बहुत ज्यादा झड़ रहे हैं और किसी भी तरह से वो ठीक नहीं हो पा रहे हैं तो डॉक्टर से सलाह लें|