जब भी भारत में किसी सबसे खूबसूरत जगह की बात की जाती है, तो कश्मीर का नाम सबसे पहले ज़बान पर आता है। कश्मीर की वादियां जितनी खूबसूरत हैं, यहां के लोग, उतने ही खूबसूरत होते हैं| यहाँ आपको हर किसी के चेहरे पर खुशी और प्राकृतिक चमक देखने को मिल जाएगी। पहाड़ी क्षेत्रों में वैसी भी आपको हर किसी की त्वचा शाइन करते हुए दिख जाएगी – खासकर महिलाओं की। अक्सर आपके मन में भी यह सवाल आया है कि कश्मीर के लोग इतने सुंदर क्यों होते हैं?
कश्मीरी सुंदरता के पीछे खानपान और रहन – सहन की मुख्य भूमिका होती है। वाकई में खानपान का त्वचा पर बहुत प्रभाव पड़ता है। 2012 में नेशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसिन, यूएसए द्वारा किए गए रिसर्च के अनुसार, आदिवासी कश्मीरी महिलाएं 29 भी अधिक जड़ी-बूटियों, तेलों और औषधीय फलों का उपयोग करती हैं, जो नॅचुरल रूप से सुंदरता को बढ़ाने में मदद करते हैं।

लाभकारी चीज़े:
1.केसर
कश्मीरी केसर अपने ब्यूटी लाभों के लिए जानी जाती है। यह आपकी त्वचा के लिए हर तरह से लाभकारी है। इसमें मिलने वाले एंटीऑक्सीडेंट्स आपकी त्वचा पर नैचुरल चमक लाने में मदद कर सकते हैं। आप केसर दूध को अपने चेहरे पर लगा सकती हैं और चाहें तो इसे रोज़ पी भी सकती हैं।

2.बादाम
सभी पहाड़ी इलाकों में नट्स और ड्राई फ्रूट्स काफी अच्छी मात्रा में मिलते हैं। इन क्षेत्रों में इनकी अच्छी पैदावार होती है। आप कुछ बादाम का प्रयोग अपने चेहरे को स्क्रब करने के लिए भी कर सकती हैं। बस 8 – 10 बादाम का पेस्ट बनाएं, इसे दूध के साथ मिक्स कर, अपने चेहरे पर लगाएं। यह स्क्रब आपके चेहरे की सारी गंदगी कोई भी दूर कर देगा।

3.कश्मीरी लहसुन
कश्मीरी लहसुन को स्थानीय रूप से ‘थॉम’ के रूप में जाना जाता है। इसका उपयोग पिंपल्स को ठीक करने के लिए भी किया जाता है। लहसुन की कलियों को बारीक पीसकर पानी में मिलाकर पाउडर बना लें और पिंपल्स पर लगाएं। पेस्ट को लगाकर सूखने तक छोड़ दें फिर अपने चेहरे को ठंडे पानी से धो लें।

4.अंजीर

कश्मीरी अंजीर का इस्तेमाल चेहरे पर झाइयां कम करने के लिए भी किया जाता है। अंजीर को घर के बने दही के साथ मिलाकर गाढ़ा पेस्ट बना लें। 10-15 मिनट के लिए अपने चेहरे को ऊपर की ओर गोलाकार गति में मालिश करें फिर अपने चेहरे को गुनगुने पानी से धो लें।

5. कहवा

कश्मीरी चाय कहवा भी आपकी त्वचा के लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकता है। क्योंकि कहवे में मिलने वाले पोषक तत्व और एंटीऑक्सीडेंट्स आपकी बॉडी से सभी टॉक्सिन्स निकालने में मददगार होते हैं। इसलिए आप अपनी शाम की चाय को कश्मीरी कहवे से रीप्लेस कर सकती हैं।

इसके अलावा, दही में जीवाणुरोधी प्रभाव होता है। अंजीर में विटामिन क और ब6 की मात्रा अधिक होती है जो त्वचा को एक समान रखने में मदद करता है,और झुर्रियों को रोकने के साथ ही त्वचा को फिर से जीवंत करता है।

ऐसे ही लेखों को पढ़ने के लिए विजिट करे बेस्ट4हेल्थ की वेबसाइट..