बच्चे के जन्म के बाद या फिर वजन में उतार-चढ़ाव होने के कारण अक्सर त्वचा पर स्ट्रेच मार्क्स दिखाई देने लगते हैं। यह बेहद ही सामान्य हैं, लेकिन बहुत सी महिलाएं इसे लेकर सहज महसूस नहीं करती हैं और इसे खत्म करने के लिए तरह-तरह की क्रीम्स का प्रयोग करती हैं। हो सकता है कि इन क्रीम्स का उपयोग करने से आपको कुछ हद तक लाभ मिले, लेकिन यह पूरी तरह से आपके स्ट्रेच मार्क्स को हटा नहीं कर सकते हैं। ऐसे में इनकी विजिबिलिटी को कम करने के लिए आपको इन्हें हाइड करने के कुछ आसान तरीकों के बारे में पता होना चाहिए।

आज के समय में ऐसे कई तरीके मौजूद हैं, जो स्ट्रेच मार्क्स के निशान को हटाने में मदद कर सकते हैं, जिनके बारे में आज हम आपको इस लेख में बताने जा रहे हैं-

मेकअप का लें सहारा-
स्ट्रेच मार्क्स को छिपाने का एक सबसे अच्छा तरीका है कि आप मेकअप की मदद लें। मेकअप आपको पूरी तरह से बदलने का क्षमता रखता है, बस जरूरी होता है कि इसे सही तरह से इस्तेमाल किया जाए। अगर आप मेकअप की मदद से स्ट्रेच मार्क्स को छिपाना चाहती हैं, तो इन स्टेप्स को अपनाए-
• सबसे पहले आप स्ट्रेच मार्क्स वाले एरिया को एक्सफोलिएट करें। यह आपकी स्किन को चिकना बनाने में मदद करता है। आप स्क्रब की मदद से स्किन एक्सफोलिएट कर सकते हैं।
• अब बारी आती है सनस्क्रीन लगाने की। यह आपकी स्किन को धूप की यूवी किरणों से बचाने के साथ-साथ उसे टैनिंग से भी बचाता है।
• अब एक फ्लैट फाउंडेशन ब्रश की मदद से कंसीलर अप्लाई करें। आप इससे अपने स्ट्रेच मार्क्स वाले एरिया को कवरेज प्रदान करें। ध्यान दें कि आप कंसीलर लगाने के लिए शॉर्ट स्ट्रोक्स का उपयोग करें और फिर ब्यूटी ब्लेंडर या स्पंज की मदद से उसे ब्लेंड कर लें|
• कंसीलर लगाने के बाद आप सेटिंग पाउडर का इस्तेमाल करें। आप पाउडर ब्रश का इस्तेमाल करके उस एरिया पर पाउडर अप्लाई कर सकती हैं। इसके बाद, इसे कम से कम 2 मिनट के लिए ऐसे ही रहने दें।
• आप देखेंगी कि आपके स्ट्रेच मार्क्स नजर नहीं आ रहे हैं।
• अंत में, आप अपना मेकअप सेट करने के लिए मेकअप सेटिंग स्प्रे का इस्तेमाल करें। इससे आपका मेकअप पिघलेगा नहीं और ना ही आपके कपड़ों में लगकर बर्बाद होगा। मेकअप सेटिंग स्प्रे मेकअप को एक जगह पर टिकाए रखने का अच्छा तरीका है|

सेल्फ टैनर्स का करें इस्तेमाल-

अगर आप अपने स्ट्रेच मार्क्स को छिपाने के साथ-साथ त्वचा में एक बेहतरीन ग्लो भी चाहती हैं, तो सेल्फ टैनर्स का उपयोग किया जा सकता है। आप चाहें तो स्प्रे टैन को भी यूज कर सकती हैं। बता दें कि सेल्फ टैनर्स में डीएचए नामक एक्टिव इंग्रीडिएंट पाया जाता है। यह डीएचए स्किन की ऊपरी लेयर के साथ संपर्क करके स्किन कलर को डेवलप करता है और उसे एक ग्लो प्रदान करता है। हालांकि, इसका बहुत अधिक इस्तेमाल इन करना चाहिए।
• सेल्फ टैनर्स का इस्तेमाल करने से पहले अपनी स्किन को एक्सफोलिएट करें ताकि पदार्थ एक बेहतरीन फिनिश प्रदान करें। हालांकि, सेल्फ-टेनर लगाने से एक दिन पहले ऐसा करें।
• अब सेल्फ टैनिंग लोशन को एक प्लेट में डालें। आप उस एरिया के अनुसार पदार्थ की मात्रा तय कर सकती हैं। अब ब्यूटी ब्लेंडर की सहायता से इसे स्ट्रेच मार्क्स पर लगाएं। अपने पैरों और हाथों पर टैनिंग लोशन लगाएं ताकि यह एक समान दिखाई दे|
• अब इसे कुछ देर के लिए सूखने दें और बस आपकी स्किन तैयार है।

बनाएं टैटू-
इन दिनों बॉडी में टैटू का चलन काफी बढ़ गया है और आपको स्ट्रेच मार्क्स बहुत अधिक नहीं है, तो ऐसे में उस एरिया पर टैटू बनवाना भी एक अच्छा सुझाव हो सकता है। यह बॉडी टैटू इंक के कारण उस एरिया को कवर कर देते हैं, जिससे स्ट्रेच मार्क्स विजिबल ही नहीं होते हैं। आप स्ट्रेच मार्क्स एरिया के अनुसार टैटू के डिजाइन को चुन सकते हैं।